Success story in hindi-प्रेनात्मक कहानियाँ हिंदी में

0
330
success story in hindi

Success story in hindi

मानसिकता (Mindset)

एक बार एक राज्य था वहाँ के राजा को हर पांच में बदल दिया जाता था | उसे पांच साल पुरे होने के बाद नये कपडें पहनाकर , एसी जगह छोड़ दिया जाता था जहाँ कुछ खाने-पिने को नही , रहने को नहीं ,चारों तरफ जंगल ही जंगल मतलब जीवन ही नहीं होता था |

जब किसी राजा के पांच साल पुरे हुयें और उसे जंगल भेज दिया गया तब सब को ये विचार आया की अब राजा कोन बने |सबको ये डर था की पांच साल बाद में उनका भी वो ही हश्र होगा जो पिछले राजाओ का हुआ था | अतः सबने मना कर दिया | उसी वक्त किसी ने सलाह दी की अपने राज्य में एक ऐसा व्यक्ति है जो राजा बन सकता है |

वे सब उस आदमी के पास गये और उसे राजा बनने के लिए बोला गया | पहले तो उसने मना कर दिया लेकिन जब लोगों ने उसे मनाया तो वह मान गया | सबने मिलकर उसे राजा बना दिया |

वह आदमी बहुत बुद्धिमान और अच्छी मानसिकता वाला था | उसने राजा बनने के बाद भोग-विलाश में समय बर्बाद नही किया | उसने सेनिको को आदेश दिया की “मुझे वह जगह दिखाओ जहाँ मुझे तुम पांच साल बाद भेज दोंगे |

ये कहानियाँ आपको सफल बना सकती है

सैनिक उसे उस जंगल में ले गये ,वहाँ जाकर उसने देखा की बहुत से इंसानों के कंकाल पड़े हुए थे ,पानी भी दूर-दूर तक नही था | घना जंगल और उसमें खतरनाक जानवरों की आहट हो रही थी |

वह राजा उस जंगल से आया और सोचता है की मुझे एसी जगह कभी नही जाना , मुझे कुछ करना होगा | तो  उसने  जंगल में साफ़-सफाई के आदेश दिए | सेनिको ने आदेशों का पालन किया |जब साफ़-सफाई पूरी हो गयी तो वहाँ के जानवरों को हटाने के लिए बोला गया | सेनिको ने इस आदेश को भी पालन किया |फिर राजा ने वहाँ पर पानी के लिए तालाब बनवाए, नलकूप बनवाए ,रोड बनवाई | देखते ही देखते उस जगह मकान बनने शुरू हुए और इंसानों के रहने लायक वातावरण बन गया |

दूसरी तरफ राजा पैसों की भी बचत कर रहा था ताकि जब वो उस जगह जाये जिस जगह को उसने बहुत अच्छा बनवा दिया है वहाँ उन पैसों का सदुपयोग क़र सके |

जब राजा के पांच साल पुरे हुए और उसे भी नये कपडे पहनाकर विदा करने लगे तो वह राजा बहुत खुश था | सब लोग राजा को देखकर अचंभित थे |

सब सोच रहे थे की हमने जितने भी राजा को भेजा सब रोते हुए , दुखी मन से जा रहे थे लेकिन ये हंस रहा है तो उन्होंने राजा से पूछ ही लिया की तुम इतने खुश क्यों हो |

राजा कहता है ” जब हम जन्म लेते है तो हम रोते है और दुनिया हसती है तो जाते जाते ऐसा कर जाओ की हम हसे और दुनिया रोये ” इसी लाइन के हिसाब से राजा ने वो सब कर लिया था की वो अब हसंता हसंता जा रहा था | उसने कहाँ की में राजा जरुर था लेकिन मुझे पता था की में पांच साल बाद कहाँ जाने वाला हूँ अतः मेने अपने आगे के पांच साल सही करने के लिए अपनी राजा वाले जीवन में भोग-विलाश को छोड़कर मेहनत करी | और आज में खुश हूँ | और वह राजा चला गया |

कहानी का सारांश :

इस कहानी (मानसिकता Mindset) से हमे ये शिक्षा मिलती है की हमें जब गुरुजन , माता-पिता बोलते है की पढाई कर लो तो हम ध्यान नही देते है हमे पता नही होता की आगे जो हमारा जीवन आने वाला है वो बिना मेहनत और पढाई के कितना ख़राब होने वाला है |हमे वो जंगल (गरीबी ) निगल जायेगा जिसकी हम कामना भी नहीं कर सकते |

अतः हमे कल को बेहतर बनाने के लिए आज मेहनत करनी पड़ेगी |

आशा करता हूँ  की आपको ये कहानी Success story in hindi पसन्द आएगी हमे कमेंट करके जरुर बताये और आप भी अपने लक्ष्य को लेकर उत्साहित रहेंगे | मेहनत करेंगे और सफल होंगे | धन्यवाद |

ये भी पढ़े :-

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here