Short Motivational Story In Hindi For Success-ज्यादा सोचने वाले ये कहानी जरुर पढ़े

0
5007
----------Advertisement--------------
Short Motivational Story In Hindi For Success,मोटिवेशनल स्टोरी इन हिंदी फॉर स्टूडेंट्स,रियल लाइफ स्टोरी इन हिंदी,motivational story in hindi pdf,रियल मोटिवेशनल स्टोरी इन हिंदी
motivational story in hindi for depression,मोटिवेशनल स्टोरी फॉर स्टूडेंट्स तो वर्क हार्ड,मोटिवेशनल स्टोरी इन इंग्लिश,motivational story for students in hindi

 

Short Motivational Story In Hindi For Success 1 : एकाग्रचित 

Motivational story in hindi एक बार एक आदमी था जो किसी भी प्रकार का ताला lock खोल सकता था | चाहे वह घर का लॉक हो , तिजोरी का लॉक हो या जेल को लॉक हो वह खोल लेता था |

----------Advertisement--------------

सब उसके हुनुर से अचंभित थे | इस वजह से हर तरफ गाँव-गाँव, शहर-शहर उसके चर्चे थे | हर कोई उसके इस हुनुर का कायल था |

एक बार शहर में प्रतियोगता हुई उस प्रतियोगता की चुनोती ये रखी गयी की

“व्यक्ति को एक बॉक्स में बंद कर दिया जायेगा और बाहर से ताला लगा कर उसे पानी में डाल दिया जायेगा | अगर कोई भी इस बॉक्स को खोल कर सांस घुटने से पहले बाहर निकल जायेगा वह प्रतियोगता जित जायेगा | लेकिन अगर कोई इसे खोल नहीं पाता है तो वह बॉक्स के अन्दर एक डोर बेल होगी उसे बजाकर अपनी हार मान सकता है |”

वह व्यक्ति जो ताले खोलने में निपुण था उसने यह चुनोती स्वीकार कर ली | उसे बॉक्स में बैठाया गया और बाहर से ताला बंद करके उस बॉक्स को पानी में डाल दिया गया |



वहा खड़े सभी लोग उत्साहित थे की वह अब जल्दी ही उस बॉक्स से बाहर आएगा और इस प्रतियोगिता को जित लेगा

वहाँ अन्दर वह व्यक्ति उस बॉक्स को खोलने की कोशिश करने लगा वह अपना सारा दिमाग लगा चूका था लेकिन उससे वह बॉक्स खुल नही पाया |

Short Motivational Story In Hindi For Success

उसके लिए अन्दर रह पाना मुश्किल हो रहा था उसकी सांस घुटने लगी थी तो उसने हार मान ली और उस डोर बेल को बजा दिया |

उसे पानी से बाहर लाया गया | और उसे उस बॉक्स से बाहर निकाला गया | जब वह बाहर आया तो उसे पता चला की बॉक्स पर तो ताला ही नहीं लगा था |

उसे बहुत शर्मिंदगी महसूस हो रही थी की उसके दिमाग ने इतनी कोशिश करी लेकिन एक बार भी ख्याल नही आया की ये खुला भी हो सकता है

Short Motivational Story In Hindi For Success moral :-

हमें इस प्यारी सी कहानी Short Motivational Story In Hindi For Success से ये शिक्षा मिलती है की अगर हमे एकाग्रचित होकर सोचना नही आता है तो आपका हुनुर कभी कम नहीं आता ,

कभी-कभी किसी काम  का उपाय इतना सरल होता है की कितना भी बड़ा हुनुर वाला आदमी हो उस कार्य का समाधान नहीं कर पाता |

कभी-कभी कुछ ना करना ही समाधान होता है | आजकल एक ट्रेंड (Trende ) सा हो गया है हर विडियो,किताबों में बताया जाता है की अपने आप को व्यस्त रखो , खाली मत बेठों “खाली दिमाग शैतान का घर होता है ”

लेकिन ऐसा नही है सबसे ज्यादा विचार जब हम खाली बेठे रहते है कुछ नही कर रहे होते है तब आते है | ज्यादा सोचने वाले व्यक्ति अपने ही कम में व्यस्त रहते है | 

वह आदमी भी ताला खोलने , अपने आप को अच्छा साबित करने ,लोगों के सामने महान बनने में इतना वयस्त हो जाता है की उसे पता ही नही लग पाता की बाहर ताला नही लगा हुआ |

अतः जब भी किसी उधेड़बुन में फस जाओ तब शांति से विचार करना की इससे निकलने का क्या समाधान है |आशा करता हूँ आपको ये कहानी पसंद आई होगी |

अगर आपने ये कहानी पूरी पढ़ी है तो कमेंट करके जरुर बताये आपकी कमेंट से मुझे मोटिवेशन मिलता है |

Short Motivational Story In Hindi For Success 2:सोने का अंडा 

Short Motivational Story In Hindi For Success:एक गाँव में एक गरीब किसान अपनी पत्नी और बच्चो के साथ रहता था , वह किसी तरह मजदूरी करके अपना जीवन यापन करता था

लेकिन सुबह से श्याम मजदूरी करने के बाद कभी-कभी दो समय का खाना भी नसीब नहीं हो पाता था |

एक दिन उसने कुछ पेसे बचाकर बाजार से मुर्गियाँ खरीद लाया ताकि उनसे मिलने वाले अंडो से उसे थोड़ी और आमदनी हो सके |

उन मुर्गियों में एक मुर्गी सबसे अलग थी या कहे तो बहुत ही अद्भत थी

वह रोज साधारण अंडे की जगह सोने का अंडा दिया करती थी |



उस गरीब किसान के तो जेसे भाग्य खुल गये हो , वह रोज उस अंडे को बेचता और खुश रहता क्योंकि अब धीरे-धीरे उसकी गरीबी दूर होती जा रही थी |

और एक दिन ऐसा दिन आया की वह गाँव का बहुत ही धनी व्यक्ति बन गया |

किसान अपने जीवन से बहुत संतुष्ट था लेकिन उसकी पत्नी को लालच आ गया था ,

एक दिन वह अपने पति (किसान ) को बोली की “कब तक हम रोज एक-एक सोने का अंडा बेचकर थोड़े-थोड़े पेसे कमाते रहेंगे ,क्यों ना हम एक ही बार में उसके पेट से सारे अंडे निकाल ले जिससे की हमे बहुत सारा धन मिलेगा और हम और भी धनवान हो जायेंगे “

किसान को पहले तो ठीक नहीं लगा लेकिन पत्नी के बार-बार कहने पर वह मान गया और एक बड़ा सा चाकू लेके मुर्गियों के बाड़े में गया ,और उस मुर्गी को पकड़कर उसका पेट चिर डाला |

Short Motivational Story In Hindi For Success

लेकिन दोनों पति-पत्नी हेरान रह गये यह देखकर की उसके पेट में तो एक भी अंडा नहीं था |

यह सब देख वह दोनों पछताने लगे |

उनके लालच की वजह से रोज सोने का अंडा देने वाली मुर्गी मर जाती है और उनके हाथ कुछ नहीं लगता है | अतः कहाँ जाता है की “लालच बुरी बला है “

Short Motivational Story In Hindi For Success Moral :-

दोस्तों, लालच इंसान की दुर्गति कर देता है , हमें कभी-कभी कुछ ऐसा मिल जाता है की हम सोचते है की काश हमे ये सब जल्दी मिल जाये और हम सफल हो जाये लेकिन जब भगवान को देना है वह वेसे ही देता है |

अतः हमें जो कुछ भी मिल रहा है या हमारे पास जो भी है हमें उसमे खुश रहना चाहिए |

Short Motivational Story In Hindi For Success: मेहनत का फल 

Motivational story in hindi :एक गाँव में एक किसान रहता था ,वह बहुत ही मेहनती था | वह रोज सुबह जल्दी उठकर अपने खेत पर जाता वहां खेती करता और अपना जीवन यापन करता था |

उसके एक बेटा था जो बहुत ही आलसी था , दिनभर खाना और बस सोते रहना और कोई काम नहीं करना , वह हमेशा सोचता था की यह काम आज नही किया तो कल कर लूँगा , फिर आगे से आगे वह यही सोचता था और कुछ भी नहीं करता था |

एक दिन किसान अपने खेत के लिए कुछ सामान लाने बाजार जा रहा था , उसने अपने बेटे से कहाँ की जब तक में नहीं आऊ तुम खेत में रखे अनाज की रखवाली कर लेना |

उस लड़के ने अपने पिता को हाँ बोल दिया |

और वह किसान बाजार चला गया

वह लड़का कुछ देर तक खेत में रहा और थोड़ी देर में वहीँ सो गया |

जब उसकी आँखे खुली तो उसने पाया की बहुत से कबूतर,गिलहरी और बाकि के पक्षी उस अनाज को ले जा रहे है ,खा रहे और चारो तरफ फेला रहे है |

वह लड़का बहुत ही घबरा गया था ,

Short Motivational Story In Hindi For Success

कुछ देर बाद जब उसके पिता बाजार से लौट कर आये तो सारा माजरा देखकर बहुत गुस्सा हुए ,और उसने अपने बेटे से कहाँ की “बेटा अगर तुम ऐसे ही आलसी बनके रहोगे तो अपने जीवन में कभी सफल नहीं हो पाओगे ”

हम साल भर दिन-रात जागकर खेतो में मेहनत करते है तब जाकर हमे अनाज मिलता है और हम रोटी खा पाते है , अगर यह अनाज ख़राब हो जायेगा तो हम क्या खायेंगे |

पिता की बात सुनकर उस लड़के को बहुत ही पछतावा हो रहा था शायद उसे अपने पिता की बात समझ आ गयी थी |

उस दिन के बाद वह कभी आलस नहीं करा और मेहनत करने लगा |

Short Motivational Story In Hindi For Success मोरल :-

दोस्तों ,हमें भी अपने जीवन में अगर सफल होना है तो आलस को त्यागकर मेहनत करनी होगी, अगर आप छात्र है तो मन लगाकर पढाई करनी होगी और अगर आप पैसा कमाते है तो आपको वहां मेहनत करनी होगी ,

हम भी कभी-कभी यहीं सोचते है की अरे कल कर लेंगे ,यही वो आलस है जो हमें कुछ अच्छा करने से रोकता है , अतः आज ही से प्रण लो की आप भी कभी आलस नहीं करोगे और हमेशा मेहनत करते रहोगे |

 सबसे ज्यादा पढ़े जाने वाले लेख :-

Previous articlestory in hindi lyrics -सफलता का रह्शय
Next articleSuccess Story In Hindi | मोटिवेशनल स्टोरी इन हिंदी फॉर स्टूडेंट्स

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here