motivational kahani in hindi For Success-प्रेरणादायक हिंदी कहानियां

0
281
motivational kahani in hindi
Morivational Story in hindi motivational kahani in hindi

हेल्लो दोस्तों, आज हम आपके लिए लेकर आये है बहुत ही Inspired story in hindi में (motivational kahani in hindi For Success) , जिन्हें आप पढ़कर, समझकर,और अपने जीवन में अपनाकर बहुत कुछ अच्छा सिख सकते है ,अच्छे बन सकते है |

तो आइये शुरू करते है :- motivational kahani in hindi

1.समय का सदुपयोग 

motivational kahani in hindi:-रोहित अपनी स्कूल का बहुत ही होनहार छात्र था ,उसकी गिनती स्कूल के मेधावी छात्रों में होती थी | वह अपनी क्लास में सबसे अधिक अंक प्राप्त करता है और स्कूल में सबसे अधिक अंक प्राप्त करने की हिम्मत रखता है |

एक बार स्कूल में किसी विषय पर निबंध प्रतियोगता होने की घोषणा की गयी | और उसका समय 1 5 दिन आगे का रखा गया |

जिसे सुनकर स्कूल के सभी छात्र उत्साहित थे की उन्हें इस प्रतियोगता में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेना है और सबसे अधिक अंक प्राप्त करने है |

लेकिन रोहित उत्साहित नहीं था क्योंकि स्कूल वालो ने जो समय दिया था वह उसे बहुत ज्यादा लग रहा था , उसे वो 15 दिन समय की बर्बादी लग रही थी |

लेकिन वो स्कूल के फेसले के आगे कुछ नहीं कर सकता था , अतः वह 15 दिन बीतने का इन्तजार करने लगा |

motivational kahani in hindi

उसने सोचा की में सबसे बुद्धिमान और होनहार हूँ ,मुझसे ज्यादा नंबर कोन ला सकता है ,यही सोचकर उसने 14  दिन निकाल दिए |

जब एक दिन शेष रहा तो रोहित को लगने लगा की अब उसे निबंध लिख लेना चाहिए |

मोहन ने सभी पुस्तकों को निकाला और निबंध तेयार करने में जुट गया | लेकिन उसे यह दिन कम पड़ गया और वो एक अच्छा निबंध नहीं लिख पाया |

जब प्रतियोगता का परिणाम आया तो प्रथम पुरस्कार राजीव को मिला जो कक्षा में सबसे कम अंक लाता था |

जब राजीव से गुरुजनों ने इस बारे में पूछा गया तो उसने कहा की वह पहले दिन से ही अच्छा निबन्ध लिखने की तेयारी में जुट गया था |

ऐसा सुनकर रोहित रोने लगा और अपने घर चला गया | लेकिन अब पछताए होत क्या जब चिड़िया चुग गयी खेत |

motivational kahani in hindi सीख :-

कभी अपने आप पर ज्यादा घमंड नहीं करना चाहिए और हमेशा समय का सदुपयोग करना चाहिए |

2.ज्ञान के बिना सच्चे की परख नामुमकिन

motivational kahani in hindi:-एक बार की बात है , एक जोहरी था , जिसका निधन हो गया और उसके परिवार को खाने के भी लाले पड़ गये |

एक दिन उस जोहरी की पत्नी ने एक नीलम का हार अपने बेटे को दिया और कहाँ की “अपने चाचा के पास जाओ और ये हार बेचकर उनसे कुछ पेसे ले आओ , जिससे की कुछ खाने की वयवस्था हो जाये |

लड़का वह हार लेकर अपने चाचा के पास जाता है और उन्हें वह हार दिखाता है |

चाचा उस हार को अच्छे से देखता है और अपने भतीजे को बोलता है की “ये हार अभी मत बेचो अभी बाजार मंदा है , थोडा रूककर बेचना , अच्छे पैसे मिलेंगे |

और चाचाजी ने उसे कुछ रूपये दिए और कहाँ की तुम कल से दुकान पर आ जाना , और काम भी सीखना |

अगले दिन से वह लड़का रोज चाचा की दुकान पर आने लगा और हीरे-पन्नो की परख का काम सिखने लगा ,

किसी का मजाक न उड़ाए कहानी हिंदी में~Motivational story in hindi

समय बीतता गया और एक दिन वह लड़का बहुत ही अच्छा पारखी (रत्नों की जांच करने वाला ) बन गया | लोग दूर-दूर से उससे हीरो की जांच कराने आते |

एक दिन उसके चाचा ने कहाँ की “बेटा अपनी माँ से वह हार लेकर आना और कहना की अभी बाजार बहुत तेज है , हार के अच्छे पैसे मिल जायेंगे |

लड़के ने जब माँ से हार लिया और उसे परखा तो उसने पाया की “वह हार तो नकली है “| वह लड़का उस हार को घर पर ही छोड़ दुकान लौट आया |

चाचा ने पूछा “हार नहीं लाये “|

लड़के ने कहाँ ” हार तो नकली है ”

तब उसके चाचा ने कहाँ की ” जिस दिन तुम पहली बार ये हार मेरे पास लेकर आये थे , उस वक्त अगर में इसे नकली बता देता तो तुम सोचते है की …

आज हमारे बुरे वक्त में चाचा ने भी हमारी चीज़ को नकली बता दिया , आज जब तुम्हे खुद को ज्ञान हो गया तो तुम्हे खुद को पता लग गया की “हार नकली है “|

लड़का अपने चाचा की बात समझ गया था |

motivational kahani in hindi सिख :-

सच बात तो यह है की अज्ञानता की वजह से इस संसार में हम जो भी देखते है , सुनते है , करते है , वह सब गलत है | और इसी प्रकार की गलतफहमी की वजह से रिश्ते टूट जाते है | अतः हमारे जीवन में ज्ञान का प्रकाश अति आवश्यक है |

3.घमंडी कौवा

motivational kahani in hindi :-हंसो का एक समूह पानी के ऊपर तेर रहा था , तभी वहां से एक कौवा गुजरा |

कौए ने हंसो को उपहास भरी नजरो से देखा और उनकी हंसी उड़ाते हुए बोला “तुम लोग कितनी अच्छी उडान भर लेते हो , और तुम इससे ज्यादा कर भी क्या सकते हो ”

क्या तुम मेरी तरह फुर्ती से उड़ सकते हो ? मेरी तरह हवा में कलाबजिया दिखा सकते हो ? नहीं ! तुम नहीं दिखा सकते , तुम तो अच्छे से जानते भी नहीं हो की उड़ना किसे कहते है |

कौए की बात सुनकर एक हंस उससे बोला ” ये अच्छी बात है की तुम ये सब कर सकते हो , लेकिन तुम्हे इस बात को लेकर घमंड नहीं करना चाहिए |

तो वह कौवा बोला “में घमंड नहीं जानता , अगर तुम्हारे अन्दर किसी में दम है तो मुझे हरा करके दिखाए “|

एक हंस ने उसकी चुनोती स्वीकार कर ली |

और यह तय हुआ की प्रतियोगिता दो चरणों में होगी ….

पहले चरण में कौवा अपने करतब दिखायेगा और हंस को उसके करतब दोहराने होगे ,

motivational kahani in hindi

दुसरे चरण में हंस जो करतब करेगा , वह कौवे को दोहराने होगे |

प्रतियोगिता शुरू हुई और कौवा अपने करतब दिखाने लगा , कभी वह दूर आसमान में उड़ जाता तो कभी जमीन छुते हुए उड़ जाता, वह तरह-तरह की कलाबाजियां करने लगा |

लेकिन हंस कौवे के मुकाबले कुछ खास नहीं कर पाया , जिससे कौवे को बहुत हंसी आई और वो हंसो को बोलने लगा की “मेने तो पहले ही कहाँ था की तुम लोगो के बस की बात नहीं है ”

हंस ने कहाँ की अभी दूसरा चरण बाकि है , और दूसरा चरण शुरू हुआ |

हंस ने उड़ान भरी और समुन्द्र की तरफ उड़ने लगा , इस पर कौवा बोला की ऐसे भी सीधे-सीधे उड़ना कोनसी कलाबाजी है , ये तो मुर्खता है |

पर हंस ने कोई जवाब नहीं दिया और उड़ता रहा , वह समुन्द्र में बहुत दूर तक चले गये |

उधर कौवा जो इतनी देर से बडबडा रहा था , वह चुप हो गया था और वह थक चूका था | अब उसे अपने आप को हवा में रख पाना बहुत ही मुस्किल होता जा रहा था |

कौवा बार-बार पानी को छुने लगा , जिससे वह हंस अनजान बनकर कौवे से बोला ” क्या तुम्हारा ये भी कोई करतब है “

कौवा बोला “मुझे माफ़ कर दो , में बहुत थक चूका हूँ और मुझसे और अब नहीं उड़ा जा रहा , अगर तुमने मेरी मदद नहीं की तो में यही दम तोड़ दूंगा , में अब कभी भी घमंड नहीं करूंगा |

हंस को कौवे पर दया आ गयी और वह कौवे को अपनी पीठ पर बैठाकर वापिस तट की और उड़ चला |

कौवा अब सबक सिख चूका था , उसने सभी हंसो से माफ़ी मांगी |

motivational kahani in hindi सिख :-

दोस्तों हम सभी को पता होना चाहिए की सब में कुछ न कुछ अच्छाईयों जरुर होती है और कमिया भी | लेकिन हमें अपनी अच्छाईयों पर घमंड नहीं करना चाहिए , हमें सब की अच्छाईयों की कदर करनी चाहिए , कभी किसी का मजाक नहीं उड़ाना चाहिए |

आशा करता हूँ की आपको ये कहानियां (motivational kahani in hindi) बहुत पसंद आई होगी, और इनसे जरुर कुछ सिखा होगा | हमे आपको कमेंट और सुझावों का इन्तजार रहेगा |

धन्यवाद |

अधिक पसंद किये गये लेख :-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here