Barish Shayari In Hindi | ब्यूटीफुल बारिश शायरी

0
302

हेल्लो दोस्तों , आज हम लेकर आये है Barish Shayari | Barsaat shayari In Hindi | sad barish shayari | barish shayari sad | romantic barish shayari | barish shayari romantic | dosti barish shayari | barish shayari 2 line | barish shayari in hindi | barish status in hindi | ब्यूटीफुल बारिश शायरी | quotes on barish in hindi | बारिश शायरी | rain shayari 2 line | shayari about rain | shayari on barish | shayari on rain | barish status in hindi | बेमौसम बारिश शायरी | romantic barish shayari for girlfriend | funny barish shayari | barish shayari 2 line | barish shayri 2 line and Much More…

So let’s Begain :-Barish Shayari In Hindi | Rain Quotes | ब्यूटीफुल बारिश शायरी

सुना है बाजार में गिर गए है दाम सारे इत्र के

बारिश की पहली बूंदों ने आज मिटटी को छुआ है.

तेरे प्रेम की बारिश हो
मै जलमग्न हो जाऊं
तुम घटा बन चली आओ
मै बादल बन बरश जाऊं..

बारिश की बूँदों मे झलकती है तस्वीर उनकी‎

और हम उनसे मिलने की चाहत मे भीग जाते है..

ज़रा ठहरो बारिश थम जाये
तो फिर चले जाना
किसी का तुझ को छू लेना
मुझे अच्छा नही लगता..

बालकनी से बाहर आकर कर देखो ए-हसीना..

मौसम तुमसे मेरे दिल की बात कहने आया है..

घंटों तक भिगोया बारिश ने मुझे फिर
भी मे कोरा का कोरा ही रह गया..

ये बूंद-बूंद सी बारिश किसी की यादो की

मेरे सब्र का कच्चा मकान गिराएंगी..

Barish Shayari Hindi Me

बूँदे बारिश की यूँ जमीन पर आने लगी
सोंदी से महक माटी की जगाने लगी
हवाओं मे भी जैसे मस्ती छाने लगी
वैसे ही हमे भी आपकी याद आने लगी..

अब कौन घटाअो को, घुमड़ने से रोक पायेगा
ज़ुल्फ़ जो खुल गयी तेरी, लगता है सावन आयेगा..

इन्द्र धनुष का मज़ा लेना है,

तो बारिश तो झेलनी होगी..

ग़म-ए-बारिशे इसीलिए नही कि तुम चले गए
बल्कि इसलिए कि हम ख़ुद को भूल गए..

मासूम मोहब्बत का बस इतना फसाना है
कागज़ की हवेली है, बारिश का ज़माना है..

बारिश से ज़्यादा तासीर है तेरी यादो मे
हम अक्सर बंद कमरे मे भी भीग जाते है..

ये बारिश ,ये हसीन मौसम और ये हवाये,

लगता है आज मोहब्बत ने किसी का साथ दिया है..

बारिश समझनी है तो किसानो के चेहरे पढो..
इन शायरियो ने तो इसे इश्क के दायरे मे बांध रखा है..

ये हल्की बारिश, ये खामोश नज़ारे और ये हम फुर्सत मे..

ऐ शाम ! तेरा गमगीन होना मुनासिब है…

बारिश मे हम पानी बनकर बरस जायेंगे
पतझड़ मे फूल बनके बिखर जायेंगे
क्या हुआ जो हम आपको तंग करते है
कभी आप इन लम्हो के लिए भी तरस जायेंगे..

आज आई बारिश तो याद आया वो जमाना
वो तेरा छत पर रहना और मेरा सडको पर नहाना..

सुना है बारिश मे दुआ कुबूल होती है

अगर इजाजत हो तो मांग लू तुम्हे..

कितना कुछ धुल गया आज इस बारिश मे
हाँ तुम्हारी यादो के पन्ने भी धुल गए इस बारिश मे..

Rain Quotes Hindi Me

मजबूरियाँ ओढ़ के निकलता हूँ घर से आजकल
वरना शौक तो आज भी है बारिशो मे भीगने का..

पहले बारिश होती थी तो याद आते थे
अब याद आते हो तो बारिश होती है ..

एक हम है जो इश्क़ कि बारिश करते है,

एक वह है जो भीगने को तैयार ही नही..

जितना देखू, जितना महसूस करू
जितना सुनू ,,कम सा लगता है..
ये बारिश का मौसम तुम सा लगता है..

कुछ इस कदर मे तेरे साथ हो जाऊं

तू हो जाओ बादल काले,,

मै बरसात हो जाऊ “

आज बारिश मे तुम्हारे संग नहाना है
सपना ये मेरा कितना सुहाना है
बारिश के कतरे जो तेरे होंठो पे गिरे
उन कतरो को अपने होंटो से उठाना है..

किस को ख़बर थी साँवले बादल बिन बरसे उड़ जाते है
सावन आया लेकिन अपनी क़िस्मत मे बरसात नही..

बारिश में वो बचपन के पल

कभी भूलेंगे नही हम..

दिल मे अनजाना सा एहसास
जैसे बारिश चुपके से कुछ कह रही है
ना जाने कौन सी कशिश है इस बारिश मे
जो साथ मे यादे भी ले आई है..

Barish Shayari

कभी बेपनाह बरस पड़ी कभी ग़ुम सी है
ये बारिश भी कुछ-कुछ तुम सी है..

कभी जी भर के बरसना
कभी बूंद-बूंद के लिए तरसाना
ए बारिश तेरी आदते भी 
मेरे यार जैसी है..

कुछ नशा तेरी बात का है,

कुछ नशा धीमी बरसात का है,

हमे तुम यूँ ही पागल मत समझो

दिल पर असर पहली मुलाकात का है..

मौसम- ऐ -बारिश का गुरुर तो देखो लगता है
जैसे तुमसे मिल के आया हो..

ऐ बारिश ! जरा थम के बरस,

पहले उसे आने तो दे,

फिर जम के बरस ..

उस प्यार को हम सच्चा नही कहते है,,

जिसे बारिश मे अपने महबूब की याद ना आये..

Barsaat Quotes In Hindi

सीने मे समुन्दर के लावे सा सुलगता हूँ,

मै तेरी इनायत की बारिश को तरसता हूँ..

अगर मेरी चाहतो के मुताबिक जमाने कि हर बात होती,

तो बस,, मे होता ,तुम होती ओर सारी रात बरसात होती..

ये मौसम भी क्या रंग लाया है
साथ हवा और घटाएं लाया है
मिट्टी की खुशबू फैलाये सावन आया है
दिल को ठंडक देने बरसात का महीना आया है..

रहने दो कि अब तुम भी मुझे पढ़ न सकोगे
बरसात मे काग़ज़ की तरह भीग गया हूँ मै..

ये मौसम बारिश का अब पसंद नही मुझे
आंसू ही बहुत है मेरे ,,भीग जाने के लिए..

पूछते हो ना मुझसे तुम हमेशा की मे कितना प्यार करता हूँ तुम्हे ? 

तो गिन लो बरसती हुई इन बूँदो को तुम ..

Barish Shayari

आसमां को ग़ुरूर था वो सबका मुक़ाम है
बारिश को मगर ‘ज़मीं’ ही रास आयी..

ना जाने बादलो को किस गम ने घेरा है

रो रोकर आज उसने सबको भिगोया है..

आज मेरी पूरी हुई ख्वाहिश,
दिल खुश करने वाली हुई बारिश..

बरसात का बादल तो दीवाना है क्या जाने,
किस राह से बचना है किस छत को भिगोना है..

रास्तो मे सफर करने का मज़ा आ जाता है,

जब बारिश का सुहाना मौसम हो जाता है..

बारिश से मोहब्बत मुझे कुछ इस क़दर है,
वो बरश्ता उधर है,
और मेरा दिल धड़कता इधर है..

बरसात की भीगी रातो मे फिर कोई सुहानी याद आई ,

कुछ अपना ज़माना याद आया, कुछ उनकी जवानी याद आई..

Rain Shayari Hindi Me

कितनी जल्दी ज़िन्दगी गुज़र जाती है
प्यास भुझती नही, बरसात चली जाती है
तेरी याद कुछ इस तरह आती है
नींद आती नही मगर रात गुज़र जाती है..

Barish Shayari

ऐ बारिश ज़रा थम के बरस ,जब मेरा यार आ जाये तो जम के बरस,

पहले ना बरस की वो आ न सके, फिर इतना बरस की वो जा न सके..

इन बारिशों से दोस्ती अच्छी नही
कच्चा तेरा मकान है,, कुछ तो ख्याल कर..

कभी शिद्दत की गर्मी कभी बारिश के फुहारे,

ये बादल और महोब्बत ,समझ से परे है हमारे..

जब-जब बादल बरसता है,
सनम से मिलने को दिल तरसता है..

होंठो पे हंसी तो हो मगर,
आँखों मे बरसात ना आये..

तुझसे अब बात तक करने को तरस गए है हम,

बिन मौसम हुई बारिश की तरह बरस गए है हम..

ये इश्क़ का मौसम अजीब है जनाब
इस बारिश मे कई रिश्ते धुल जाते है
बेगानो से करते है मोहब्बत कुछ लोग
और अपनो के ही आंसू भूल जाते है..

बारिश की तरह तुझ पर बरसती रहे खुशियां
हर बूँद तेरे दिल से हर एक गम को मिटा दे..

कही फिसल ना जाऊं तेरे खायलो मे चलते-चलते,

अपनी यादो को रोको,,

मेरे शहर मे बारिश हो रही है..

Barish Shayari

भीनी सी खुश्बू लिए याद आई एक कहानी
ये मौसम की बारिश और बारिश का पानी..

बरसती शाम और चाय चुस्कियां

आज फिर घूम आये हम यादो की गालियां..

सड़कों पर जमा पानी देखकर
शहर की बारिश का पता चलता है
जब गाँव में बारिश होती है
तब बाग़-बगीचों और खेतों मे
हरियाली देखकर गाँव की बारिश का पता चलता है ..

भला काग़ज़ की इतनी कश्तियाँ हम क्यो बनाते है.
ना वो गलियाँ कही है अब,, ना वो बारिश का पानी है..

Barish Shayari In Hindi Me

दूर तक छाए थे बादल ओर कही साया न था,

इस तरह बरसात का मौसम कभी आया न था..

संभला ही था दिल तेरी यादों के समंदर से,
कि अचानक फ़िर से बरसात हो गई..

बारिश की बूंदों में झलकती है उसकी तसवीर
आज फिर भीग बैठे उससे पाने की चाहत मे..

बारिश और मोहब्बत”

दोनो ही य़ादगार होते है,

,फर्क सिर्फ़ इतना होता है,,

बारिश से ज़िस्मं भीगता है, और मोहब्बत से आँखे..

तुमसे अलग होने का मन नहीं करता
इस Swimming Pool के जमाने मे,,

गाँव की बारिश हो तुम..

काश मेरे ज़िन्दगी मे आए इक ऐसी बरसात
मेरे हाथ मे हो तेरा हाथ, भीगते रहे हम सारी रात
होंट रहे ख़ामोश, बस आँखो से हो तेरी मेरी बात..

किस मुँह से इल्ज़ाम लगाएं बारिश की बौछारो पर..
हमने ख़ुद तस्वीर बनाई थी मिट्टी की दीवारो पर..

ये दौलत भी ले लो,, ये शोहरत भी ले लो

भले छीन लो मुझसे मेरी जवानी..

मगर मुझको लौटा दो वो बचपन का सावन

वो कागज़ की कश्‍ती ,,वो बारिश का पानी..

आशा करता हूँ की आपको यह Barish Shayari | Rain Quotes ,Shayari, Status पसंद आये होंगे | इन्हें आप अपने दोस्तों के साथ शेयर करे और इन Barish Shayaris के साथ बारिश का आनंद ले | और अपने कीमती विचार हमारे साथ शेयर करे |

धन्यवाद |

Previous articleSardi Shayari 2 Lines | Sardi, Winter Shayari in hindi
Next articleCricket Shayari In Hindi | Cricket Status Hindi | Cricket Quotes

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here